OSR Trust

OSR CHARITABLE TRUST

osr charitable trust

खंडित मूर्ति का क्या करे ?

टूटी हुई भगवान की मूर्ति का क्या करें?

धार्मिक और सांस्कृतिक मामलों में, टूटी हुई भगवान की मूर्ति को समर्पित तरीके से सुधारना या उसकी पुनर्निर्माण करना सामान्यत: किया जाता है। इसके लिए कुछ सामान्य चरण हो सकते हैं:

  1. संग्रहण: टूटी हुई मूर्ति के टुकड़ों को सुरक्षित रखें।
  2. पुनर्निर्माण: टूटी हुई मूर्ति को मरम्मत के लिए कला कला या स्थानीय कलाकार से मिले। यदि संभावना हो, तो किसी अनुभवी मूर्ति शिल्पकला स्थल से मदद लें।
  3. प्रतिष्ठापना: मूर्ति को पुनः पूजा और समर्पण के लिए स्थापित करने से पहले, धार्मिक आचार्य या पूजा विशेषज्ञ से सलाह लें।
  4. पूजा: मूर्ति को ठीक से पुनर्मूति करने के बाद, पूजा और आराधना का आयोजन करें।
  5. प्रवेश की आग़ाज: मूर्ति की पुनः प्रवेश के बाद एक अनुष्ठान या अगर धार्मिक सम्प्रदाय द्वारा अनुमोदित है, तो उसका विशेष समर्पण कार्यक्रम का आयोजन करें।

यदि यह संभावना नहीं हो, तो स्थानीय मंदिर अथवा धार्मिक संगठन से सहायता प्राप्त करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

क्या टूटी हुई भगवान की मूर्तियों को फेंकना सही है?

आधिकारिक धार्मिक और सांस्कृतिक प्रथाओं में भगवान की मूर्तियों का सम्मान करना एक महत्वपूर्ण सिद्धांत है, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि ये मूर्तियां टूट जाती हैं और सवार्थ धर्म या स्वच्छंद विचारधारा के कारण लोगों के द्वारा फेंकी जाती हैं। इस विचार में तर्क और विभिन्न दृष्टिकोणों को मध्यस्थ करते हुए हम इस विषय पर चर्चा कर सकते हैं।

1. धार्मिक दृष्टिकोण:

  • धार्मिक सांस्कृतिक मामलों में, भगवान की मूर्तियां अद्वितीयता और पूजा का प्रतीक होती हैं। इन्हें उच्च श्रद्धा और आदर के साथ संरक्षित करना चाहिए।
  • टूटी हुई मूर्तियां पुनर्निर्माण या सुधारने के लिए उपाय किए जाने चाहिए, बजाय उन्हें फेंकने का।

2. सांस्कृतिक आदर्श:

  • सांस्कृतिक दृष्टिकोण से, भगवान की मूर्तियां समृद्धि, शांति, और सामंजस्य की भावना को प्रतिष्ठित करती हैं। इन्हें सम्मानपूर्वक रखना चाहिए।

3. आत्मसांत्वना और आत्मपरिचय:

  • अपने आत्मसांत्वना और आत्मपरिचय को बनाए रखने के लिए, लोगों को यह समझना चाहिए कि टूटी हुई मूर्तियों को फेंकना धार्मिक और सांस्कृतिक दृष्टिकोण से उचित नहीं है।

4. समर्पण और पुनर्निर्माण:

  • टूटी हुई मूर्तियों को सुधारना और पुनर्निर्माण करना समर्पण की भावना को दर्शाता है और धार्मिक और सांस्कृतिक मूल्यों का समर्थन करता है।

5. सभी धर्मों की समझ:

  • समृद्ध और आदर्श भारतीय समाज में, सभी धर्मों के प्रति समझ और समर्पण की भावना होनी चाहिए।

समाप्ति:

  • टूटी हुई भगवान की मूर्तियों को फेंकना धार्मिक और सांस्कृतिक दृष्टिकोण से उचित नहीं है। समर्पण, साहित्यिकता, और समझ के माध्यम से हमें इन मूर्तियों को सुरक्षित रखना चाहिए और उन्हें सुधारने का प्रयास करना चाहिए। इससे हम अपने समाज में धार्मिक और सांस्कृ

खंडित मूर्ति का विसर्जन कैसे करें ?

भारतीय सांस्कृतिक और धार्मिक परंपरा में, भगवान और दैत्य, देवीदेवता की मूर्तियों की पूजा एक महत्वपूर्ण प्रथा है। हालांकि, समय के साथ ही कई मूर्तियां पुरानी हो जाती हैं और खंडित हो जाती हैं। इस स्थिति में, इन मूर्तियों का विसर्जन एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। यहां हम जानेंगे कि खंडित मूर्ति का विसर्जन कैसे किया जा सकता है।

1. समर्पण और आदर:

  • खंडित मूर्ति का विसर्जन करने से पहले, समर्पण और आदर की भावना के साथ उसका समर्पण करें। ध्यान दें कि यह एक सांस्कृतिक प्रक्रिया है और इसे आदर्श तरीके से करना चाहिए।

2. स्थान चयन:

  • विसर्जन के लिए स्थान चयन करें जो प्राकृतिक हो और जिसमें कोई अशुद्धि नहीं हो। यह स्थान विसर्जित मूर्ति को समर्थन करने के लिए उपयुक्त होना चाहिए।

3. पूजा और मन्त्र:

  • मूर्ति को विसर्जित करते समय, एक शांति पूजा और धन्यवाद की पूजा करें। मंत्र चयन करें जो विसर्जन की भावना को उचित रूप से व्यक्त करता है।

4. प्रदूषण की जाँच:

  • मूर्ति के निर्माता सामग्री की जाँच करें और सुनिश्चित करें कि वह प्रदूषण उत्पन्न नहीं करेगा।

5. विसर्जन:

  • एक समय और तिथि निर्धारित करें और उस समय मूर्ति को विसर्जित करें। सुनिश्चित करें कि विसर्जन विधि को सुरक्षित और स्वच्छ तरीके से किया जा रहा है।

6. प्रयासों का समर्थन:

  • स्थानीय प्रशासन या स्थानीय धार्मिक संगठनों के साथ मिलकर विसर्जन के योजना को समर्थन करें और सांगठन की गाइडलाइंस लें।

7. पर्यावरण संरक्षण:

  • विसर्जन के प्रक्रिया के दौरान, पर्यावरण संरक्षण का पूर्वाधार रखें और प्रदूषण मुक्त उपायों का इस्तेमाल करें।

8. जागरूकता फैलाएं:

  • विसर्जन की प्रक्रिया को समर्थन करने के लिए समुदाय में जागरूकता फैलाएं और लोगों को सही तरीके से मूर्ति विसर्जन करने के लिए प्रेरित करें।

इस प्रकार, सही तरीके से मूर्ति विसर्जन करने से हम प्राकृतिक संतुलन को बनाए रख सकते हैं और धार्मिक परंपरा के अनुसार एक सांस्कृतिक प्रक्रिया का समर्थन कर सकते हैं।

कहां देनी चाहिए खंडित मूर्ति ?

Osr Trust takes pooja waste and dispose them properly in the right way. So give broken god statues to osr trust today.

Annual Membership @ Rs 2100 Only : Pooja Waste Doorstep Pickup and disposal in haridwar 12 times a year. Opportunity to take part in cleanliness drives, cultural and awareness events.

One Time Pickup Worship Waste Pickup @ Rs 501 Only : One Time Pooja Waste Doorstep Pickup and disposal in haridwar.

हम पूजा सामग्री वेस्ट को एकत्र करके उसे प्रोपरली डिस्पोज़ और परिवर्तित करते है

Our Media Gallery

Please tell us about yourself